HomeBUSINESS IDEA'sAuto स्पेयर पार्ट्स की दुकान शुरू करने की जानकारी Spare Parts Business...

Auto स्पेयर पार्ट्स की दुकान शुरू करने की जानकारी Spare Parts Business Hindi

Spare Parts Business Hindi, two wheeler spare parts business, automobile spare parts business hindi, automobile spare parts business plan hindi, motor parts business hindi, auto spare parts business hindi, auto parts business hindi.

Automobile Spare Parts Business Plan in India Hindi- स्पेयर पार्ट्स के कारोबार में बहुत ही मुनाफा होता है इसलिए आज हम आपको spare parts Business Ideas के बारे में जानकारी देने वाले है ये बिज़नेस एक ऐसा बिज़नेस है जो हमेशा ही डिमांड में रहता है इसकी पूरी जानकारी लेकर आप इस बिज़नेस को शुरू कर सकते है। Car Work Shop Business Hindi

ऑटो स्पेयर पार्ट्स बिज़नेस ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री से जुड़ा हुआ है इस बिज़नेस में जैसे गाड़ियों की डिमांड रहती है वैसे ही उनके ठीक करने का सामान उनके स्पेयर पार्ट्स भी ऑटो स्पेयर पार्ट्स शॉप पर ही मिलते है इस बिज़नेस से जुड़े हुए लोग भी अच्छे पैसे बना रहे है ये समझ लीजिये की गाड़ियों की ठीक करने के बिज़नेस में हमेशा प्रॉफिट ही रहता है इसलिए आप इस बिज़नेस को बिना किसी चिंता और परेशानी से शुरू कर सकते है। Car Work Shop Business Hindi

अगर आप एक spare parts business की दुकान की शुरुवात करना चाहते है तो इससे जुडी सभी जानकारिया आपको होनी चाहिए जो आपको इस आर्टिकल में मिलने वाली है। Auto Parts business hindi

Spare Parts Business Hindi

Auto spare parts business plan- आइये थोड़ा स्पेयर पार्ट की दुकान के बारे में जान लेते है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे स्पेयर पार्ट की शॉप पर गाड़ियों से जुड़ा हुआ सामान मिलता है जैसे गाड़ियों के पुर्जे और उपकार एव अन्य प्रकार का गाड़ियों को ठीक करने का सामान सभी स्पेयर पार्ट्स की शॉप पर ही मिलता है सभी जानते है की की गाड़ियों को ठीक करने के लिए सामान की जरूरत होती है वो सारा सामान स्पेयर पार्ट की शॉप पर मिलता है।

स्पेयर पार्ट्स की दुकान पर स्पेयर पार्ट के पुर्जो के इलावा गाड़ियों को ठीक करने वाले मिस्त्री भी रख सकते है इससे आपको ज्यादा कमाई भी होगी इसकी लिए आप अलग से एक मिस्त्री सैलेरी पर भी रख सकते है।

बजाज इलेक्ट्रिकल्स डिस्ट्रीब्यूटरशिप कैसे ले? Bajaj Electricals Distributorship Hindi

Spare Parts Business के लिए जरुरी चीजे

किसी भी बिज़नेस को शुरू करने के लिए उसमे लगने वाली चीज़ो की जरूरत होती है Spare Parts बिज़नेस शुरू करने के लिए आपको जिन चीज़ो की जरूरत होती है वो इस प्रकार है-

  • Space requirement :- इसके अन्दर अच्छे स्पेस की जरुरत पड़ती है क्योकि इसके अन्दर एक store बनाना पड़ता है।
  • Documentation required :- कुछ डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ती है।
  • Worker requirement :-  कम से कम 1-2 Worker की जरुरत पड़ती है।
  • Investment requirement :- इन्वेस्टमेंट के बिना कोई बिज़नेस नही किया जा सकता है

इन सबकी पूरी जानकारी आपको निचे मिलने वाली है।

कौन खोल सकता है स्पेयर पार्ट्स Store

Automobile spare parts business plan in india- स्पेयर पार्ट्स स्टोर खोलने के लिए आपको इसका अनुभव होना बहुत जरूरी है और इस बिज़नेस में आपकी रूचि भी होनी चाहिए इसमें आपको हर प्रकार के सामान की जानकारिया होनी चाहिए क्योकि इसमें अलग अलग प्रकार के बहुत ज्यादा सामान होते है।

अनुभव लेने के लिए अपने बिज़नेस से पहले आप कही स्पेयर पार्ट्स शॉप और जॉब कर सकते है या कही से इसकी ट्रेनिंग ले सकते है।

स्टेशनरी बिज़नेस कैसे शुरू करे? How to Start Stationery Shop Hindi

स्पेयर पार्ट्स स्टोर के लिए अनुभव

स्पेयर पार्ट्स स्टोर शॉप बहुत से सामानो की शॉप होती है इस बिज़नेस में आपको किसी भी प्रकार की डिग्री की जरूरत तो नहीं होती है लेकिन इसमें अनुभव की जरूरत होती है  इन सामानों का इस्तेमाल किन कार्यों के लिए किया जाता है वहीं अगर आपके पास इन सामानों से जुड़ा किसी भी प्रकार का अनुभव नहीं है तो आप किसी Spare Part की दुकान में कार्य करके ये अनुभव हासिल कर सकते हैं।

अनुभव लेने के लिए अपने बिज़नेस से पहले आप कही Spare part और जॉब कर सकते है या कही से इसकी ट्रेनिंग ले सकते है।

Spare Part Business के लिए जगह की जरूरत?

Auto spare parts business in india-किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले सबसे जरूरी है काम करने की जगह आइये जानते है की Spare Part शॉप के लिए आप कितने एरिया में शुरू कर सकते है रिसर्च के अनुसार आपके पास spare part स्टोर शुरू करने से पहले 300-500 वर्ग फुट की जगह का होना आवश्यक है और आपकी जगह किसी सर्विस सेंटर, किसी रिपेयर की दुकान के पास, मॉल, बाजार, ज्यादा यातायात वाले एरिया और किसी मुख्या सड़क या हवाई अड़े के पास आप इस बिज़नेस को शुरू करते है तो आपके बिज़नेस के लिए भी बेहद फायदेमद हो सकता है।

Spare Part की दुकान में कई तरह के सामान रखे जाते हैं, जिसमें से कुछ सामान थोड़ी जगह घेरते हैं, तो कुछ सामानों को रखने के लिए अधिक जगह की जरूरत पड़ती है इसलिए आप जिस दुकान का चयन अपने Spare Part स्टोर को खोलने के लिए करें वो दुकान बड़ी होनी चाहिए।

Exide बैटरी डीलरशिप लेने की पूरी जानकारिया Exide Battery Dealership Hindi

स्टोर का डिज़ाइन बनवाये

Spare Part का बिज़नेस छोटे छोटे सामानो का बिज़नेस होता है इसमें स्टोर को ऐसे सेटअप करे की आपको पता हो कोनसी चीज़ कहा रखी है सभी चीज़ो के अलग अलग बॉक्स होने चाहिए और , साथ में ही आपको, Spare Parts के सामानों को रखने के लिए एक स्टोर की जरूरत भी पड़ेगी।

इसलिए स्पेयर पार्ट की शॉप को इस प्रकार से बनाये ताकि आपको पता चल सके की क्या सामान कहा रखा है इसकी जानकारी भी आपको होनी चाहिए।

हार्डवेयर स्टोर खोलने की सभी जानकारिया Hardware Business Hindi

Spare Parts का सामान कहा से ख़रीदे?

Spare Parts का सामान बहुत चीज़ो का सामान होता है ये सामान अलग अलग जगह से लेना पड़ता है इसलिए सभी सामान की जानकारिया लेने के बाद आपको सभी प्रकार के डीलर को ढूंढ़ना है जो अलग अलग प्रकार की सामानो के थोक विक्रेता है ये आपको आपके शहर में ही मिलजाएँगे इसलिए सभी प्रकार के अलग अलग सामान को आप अलग अलग थोक विक्रेता से लेकर अपना बिज़नेस शुरू कर सकते है।

अगर आप सारा सामान एक जगह से खरीदना चाहते है तो आपको ऑनलाइन dir.indiamart.com/ की वेबसाइट पर कई spare part सामान बेचने वाले कई विक्रेताओं से संपर्क कर सकेंगे और उन से सामान भी ले सकेंगे।

फोटोकॉपी की दुकान कैसे शुरू करें Photocopy Shop Kaise Shuru Kare?

Spare Parts की दुकान खोलने के लिए बिजनेस प्लान तैयार करें

Spare Part स्टोर को शुरू करने से पहले आपको इस स्टोर को खोलने से जुड़ा हुआ एक Business Plan भी तैयार करना होगा और उस बिजनेस प्लान में आपको Spare Part दुकान को खोलने में आनेवाला खर्चा, कहां से spare part का सामान खरीदा जाए, आपका लक्षित बाजार या ग्राहक कौन हैं और इत्यादि जैसी चीजों की जानकारी लिखनी होगी. इसके अलावा आप अपने शहर की किसी Spare Part की दुकान में जाकर भी देख सकते हैं कि किस तरह से उस दुकान को बनाया गया है और क्या क्या सामान उस दुकान के जरिए बेचे जा रहे हैं।

आवश्यक परमिट और लाइसेंस प्राप्त करें

जहा भी आप Spare Part की शॉप शुरू करने वाले है वह के सभी नियमो का पालन करते हुए आपको राज्य की स्थानीय नगर पालिका से अपनी दुकान को शुरू करने से पहले लाइसेंस  प्राप्त करना होगा और साथ में ही अपनी दुकान को भारतीय दुकान और स्थापना अधिनियम के तहत पंजीकृत भी करवाना होगा. वहीं अगर आपको लाइसेंस लेने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी नहीं है तो आप किसी वकील से मदद ले सकते हैं।

इलेक्ट्रॉनिक शॉप खोलने की पूरी जानकारी Electrical Shop Business Plan Hindi

Spare Part Business के लिए दस्तावेज

Spare part के बिज़नेस को शुरू करने क लिए कंपनी के पास कुछ डॉक्यूमेंट देने पड़ते है जो कुछ इस प्रकार है।

Personal Document (PD) :- Personal Document के अन्दर बहुत से डॉक्यूमेंट होते है जैसे :-
ID Proof :- Aadhaar Card , Pan Card , Voter Card
Address Proof :- Ration Card , Electricity Bill ,
Bank Account With Passbook
Photograph Email ID , Phone Number ,
Other Document 
 TIN No. & GST No.
Complete Property Document With Title & Address
Lease Agreement
NOC

इसके लिए आपको एक फर्म या कंपनी भी बनानी पड़ती है कंपनी रजिस्टर करवाने के लिए ये आर्टिकल पढ़े- अपनी कंपनी रजिस्ट्रेशन कैसे करवाये Register Company in India Hindi

Spare Part स्टोर के लिए कितना निवेश करना पड़ता है?

Spare Part business investment-Spare part की दुकान की शुरुवात से ही आपको निवेश की जरूरत होती है इसमें आपको अलग अलग प्रकार के सामान ख़रीदे के लिए निवेश करना पड़ता है और आपका ज्यादा निवेश जगह के ऊपर निर्भर करता है जहा आप बिज़नेस शुरू करने जा रहे है वहा जगह खरीदी पड़ जाय तो आपको निवेश ज्यादा करना पड़ सकता है।

दुकान शुरू हो जाएगी तो आपको कई तरह के अन्य खर्चे भी समय समय पर उठाने पड़ेंगे, जैसे कि दुकान का किराया, दुकान की बिजली का खर्चा, कर्मचारियों की आय और इत्यादि. इसलिए आप इन खर्चों को भी अपने बजट में जोड़ लें. ताकि जब आप दुकान शुरू करें तो आपके द्वारा निर्धारित किया गया बजट कम ना पड़े।

Spare Part के बिजनेस की शुरुआत में आपको अन्य खर्चे भी करने पड़ेंगे जैसे employee की salary, बिजली खर्च, अगर खुद की जमीन नहीं है तो किराये का खर्च आदि इन सभी खर्चों को भी आपको जोड़ कर चलना है तभी आप इस बिजनेस में सफल हो सकते हैं।

Total investment 10 to 12 lakh (spare part business cost) जगह के लिए अलग से निवेश करना पड़ सकता है।

कोई भी कार एजेंसी कैसे ले कार डीलरशिप की सभी जानकारिया Car Dealership Business Plan Hindi

Business के लिए लोन

भारत सरकार ने मेक इन इंडिया को प्रमोट करने के लिए सभी बैंको को नए बिज़नेस को शुरू करने के लिए आसानी से लोन देने के लिए आदेश दिए है अगर आप इस बिज़नेस को शुरू करना चाहते है और आपके पास पैसे नहीं है तो भारत सरकार ने एक स्कीम चलायी हुई है जिसका नाम है प्रदानमंत्री मुद्रा योजना इसके अंतर्गत आपको ये बिज़नेस शुरू करने के लिए बेहद कम ब्याज पर भारत सरकार दुवारा लोन दिया जाता है।

अगर आप किसी भी बिज़नेस के लिए बिज़नेस लोन लेना चाहते है तो आपको इस लिस्ट में हर प्रकार के बिज़नेस लोन की सभी जानकारिया मिलने वाली है- Business Loans

Spare Part दूकान में मुनाफा (Profit in Spare Part Store)

Spare Part business profit-हर उत्पाद की बिक्री पर अलग अलग प्रॉफिट मार्जिन कंपनियों द्वारा दिया जाता है  इस बिज़नेस के अन्दर 50 % से 60% से ज्यादा प्रॉफिट मार्जिन (spare part business profit) मिलता है तो इस हिसाब से इस बिज़नेस के अन्दर अच्छे पैसे कमा सकते है और ये प्रॉफिट मार्जिन किन्हीं उत्पादों पर ज्यादा होता है और किन्ही उत्पादों पर कम दिया जाता है और इन उत्पादों पर मिलने वाला ये प्रॉफिट ही आपकी इनकम होगी

इस बिज़नेस में सारा प्रॉफिट आपकी सेल्लिंग पर निर्भर करता है जितनी ज्यादा सेल्लिंग होती उतना प्रॉफिट होता है spare part आपको मार्केटिंग के लिए भी मदद करती है इसलिए आपको अपनी सेल्लिंग में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होने वाली शुरू से ही आप 50 हज़ार रुपया महीने की कमाई के साथ शुरू कर सकते है और आपकी कमाई धीरे धीरे बढ़ती चली जाती है।

आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करे? Jewellery Business Hindi

Spare Part के बिज़नेस की मार्केटिंग कैसे करे?

मार्केटिंग के बिना कोई भी बिज़नेस सफल नहीं हो सकता लोगो को मार्केटिंग से ही पता चलता है की कोई कोनसा बिज़नेस कर रहा है  आपको मार्केटिंग करनी नहीं आती तो आप अधिक पैसा नहीं कमा सकते इसलिए आप विभिन्न प्रकार के मार्केटिंग स्ट्रेटेजीज को अपना कर अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा सकते हैं सेल्स को बढाने के लिए जगह-जगह पर बैनर-पोस्टर लगायें।

ज्यादा मार्केटिंग के लिए आप रिपेयर वाली शॉप से कॉन्टेक्ट कर सकते है उनपर जो भी कस्टमर आते है वो सामान लेने के लिए उन कस्टमर्स को आपकी शॉप पर ही भेजे इसमें आप उनका एक कमीशन सेट कर सकते है इससे आपका बिज़नेस भी काफी तेजी से रफ़्तार पकड़ सकता है।

अगर आपको Spare Part Business Hindi से जुडी जानकारी से कुछ सिखने को मिला तो शेयर जरूर करे धन्यवाद्।

और बिज़नेस आइडियाज की जानकारी के लिए आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते है- Business Ideas Hindi

Ankit Kashyap
Ankit Kashyap
हेलो दोस्तों, मेरा नाम अंकित कश्यप है मै businessme.in का फाउंडर हु इस ब्लॉग के दुवारा मै अलग अलग जगह से सभी जानकारिया जुटा कर आप तक इस ब्लॉग के माध्य्म से पहुंचाता हु ये ब्लॉग आपको बिज़नेस आइडियाज  निवेश, फाइनेंस, स्टॉक मार्किट और अन्य प्रकार की जानकारिया देता है अगर आप किसी अन्य जानकारी के लिए सम्पर्क करना चाहते है तो आप हमको सम्पर्क करने के लिए [email protected] और [email protected] पर सम्पर्क कर सकते है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular