Stock Market vs Mutual Fund कौनसा है Best पूरी जानकारी

Published by Ankit Kashyap on

जब हम Investment के बारे में सोचते है तो सबसे पहले हमारे दिमाग में Stock Market vs Mutual Fund का ही ऑप्शन आता है तो हम Confuse हो जाते है की Investment Stock Market से शरू करनी चाहिए या Mutual Fund Investment से

आज हम Stock Market vs Mutual Fund के बारे में जाननेगे की इन दोनों में क्या फर्क है अगर हमे दोनों में से कौनसी जगह निवेश करना चाहिए आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे Stock Market को Share Market भी कहा जाता है।

सबसे पहले हम बात करते है Stock Market की जिससे Share Market भी कहा जाता है।

Amir Kaise Bane Smart 9 तरीके, Financial Planing 2021-22

Stock Market Kya Hota Hai ( Share Market Kya Hota Hai)

Stock Market एक लोगो से पैसा उठाने का ज़रीआ है यानि स्टॉक मार्किट में कम्पनीज लोगो से पैसा उठाती है और उन पैसा के बदले में कंपनी लोगो को कंपनी में कुछ हिस्सा देती है जिससे Company Shares बोलते है।

जब किसी कंपनी को अपना बिज़नेस बढ़ाने के लिए पैसो की जरुरत होती है तो कंपनी अपने Base Price Share Issue करती है जब लोग Shares Buy करते है तो कंपनी को पैसा मिल जाता है और लोगो को उस कंपनी में भागेदारी मिल जाती है।

जो कम्पनीज के शेयर्स होते है वो Long-Term Condition को Follow करते है जो कम्पनी लगातार अच्छा Performance करती है मतलब कंपनी के जब Sale-Purchase या Services में हिजाफा होता है तो Company Profit कमाती है तो Long-Term में उसके Shares Prices बढ़ते है जिससे कंपनी को भी मुनाफा बढ़ता है और उन लोगो का भी जिन्होंने इस कंपनी के शेयर्स ख़रीदे थे। अगर कंपनी लगातार ख़राब Performance करती है तो उसके कारण कंपनी के Shares Price  निचे गिर जायगे। 

SIP Investment vs Lump Sum कौन-सा तरीका चुनें

Stock Market Kaise Kam Karta Hai

अगर अपने स्टॉक मार्किट का नाम सुना है तो साथ में या नाम भी सुना ही होगा Sensex or Nifty. स्टॉक मार्किट इन दोनों के आधार पर ही काम करती है

सेंसेक्स और निफ़्टी दो तरीको से काम करता है।

1 BSE (Bombay Stock Exchange)

2 NSE (National Stock Exchange)

Mutual Fund Kya Hai

जैसा के Mutual Fund Name से ही पता चलता है की म्यूच्यूअल फंड्स एक फण्ड होता है जिसमे लोग Investment करते है और फिर वो फण्ड पैसो को कही और निवेश करते है। इसको म्यूच्यूअल फण्ड कहते है Mutual Fund sahi hai क्योकि इसमें Risk काम होता है।

Mutual Fund Kaise Kam Karta hai

म्यूच्यूअल फंड्स में निवेश करने के लिए आपको ज्यादा परेशानी नहीं उठानी पड़ती लेकिन आपको यह चुनना पड़ता है की आपको किस Mutual Fund Schemes में इन्वेस्ट करना है क्योकि India Total Mutual Fund 1900 है म्यूच्यूअल फण्ड 2 प्रकार के होते है Equity Mutual Fund or Debt Mutual Fund. Mutual Fund भी Stock Market Part है लेकिन इसमें सब कुछ Mutual Fund Manager दुवारा handle किया जाता है।

आइये जानते है की Stock Market vs Mutual Fund कौनसा Best Option Investment का तरीका है।

Stock Market vs Mutual Fund कौनसा Best तरीका है।

Compare Stock Market vs Mutual Fund

Share Market/Stock Market

Stock Market Investment का वो जरिया है जिससे पैसे तो बनाये जा सकते है लेकिन Stock Market Risk होता है स्टॉक मार्किट में इतना रिस्क होता है की उसमे आपका पैसा डूब भी सकते है। अगर आप बिना किसी जानकारी के Stock Market में निवेश करते है तो आपके पैसा डूबने के ज़्यदा Chances होते है।

स्टॉक मार्किट उन लोगो ले लिए है जो जानते है की स्टॉक मार्किट में निवेश करने से पहले जिस कंपनी में निवेश करने वाले है उन कंपनियों को कैसे Analysis किया जाता है। या वो लोग जो जानना चाहते है की कंपनियों को कैसे Analysis करते है

स्टॉक मार्किट में निवेश करने से पहले आपको उन कंपनियों के बारे में जानकारी हासिल करनी होती है जिन कम्पनीज में आप निवेश करने वाले है उसको Analysis करना होगा और बाद में आपको ये तय करना होगा की इसमें निवेश किया जाय या नहीं। अगर आप ये सब कर सकते हो तो आप स्टॉक मार्किट में इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकते हो।

स्टॉक मार्किट कोई आसान काम नहीं है यह पर Investment से काफी सारा Analysis करना पड़ता है Company Management or Products and Services का और साथ में आपको Company Valuation भी निकलना होगा जिसके कारण आप कंपनी में निवेश करोगे।

Stock Market एक Research वाला काम है अगर आपको स्टॉक मार्किट से पैसे कमाने है तो इसमें इतनी मेहनत तो करनी ही पड़ेगी।

Kya Mutual Fund Sahi hai

जैसा की हमने आपको पहले बता दिया है की म्यूच्यूअल फण्ड एक Funds होते है जिसके कारण इनमे निवेश करना Mutual Fund Risk Free होता है

जो लोग Mutual Funds Investment करते है उनको इस परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता की कौनसी कंपनी में निवेश करना है ये सारा काम उस फण्ड का Mutual Fund Manager करता है Mutual Fund का मैनेजर यह तय करता है की आपके दुवारा Invest किया गया पैसा किस कंपनी में Invest करना है। और कंपनी से जुड़े हुए सारे Analysis भी वो खुद करेगा।

अगर हम बात करे types of mutual fund की म्यूच्यूअल फण्ड कितने प्रकार के होते है तो म्यूच्यूअल फण्ड 2 प्रकार के होते है।

1. Equity Mutual Fund- ये फण्ड Stock Market में Investment करते है।

2. Debt Mutual Fund – ये फण्ड Debt Securities में Investment करते है जैसे Bond, Debenture etc.

अगर आप Equity Mutual Fund Investment करते हो तो आपको ज़्यदा परेशानी नहीं आती आपका सारा काम Equity Mutual Fund Manager करता है इसलिए म्यूच्यूअल फण्ड में ये जानना जरुरी है की उस फण्ड का फण्ड मैनेजर कैसा है। क्योकि आपकी सारी Investment उस पर ही निर्भर करती है।

आपको इनमे से किसमे Investment करना चाहिए

1. अगर आप एक Student है और आप रिस्क नहीं ले सकते तो आपको Mutual Funds के साथ जाना चाहिए।

2. आपकी उम्र जायदा है तब भी आपको म्यूच्यूअल फंड्स के साथ जाना चाहिए क्योकि इस उम्र में रिस्क नहीं लेना चाहिए।

3. आपके पास Risk लेने की Capabilities है तो आप स्टॉक मार्किट के साथ जाना चाहिए।

4. अगर आपके पास backup के लिए पैसा है तो आपको स्टॉक मार्किट के साथ जांना चाहिए।

5. Without Knowledge के बिना आपको Investment नहीं करनी चाहिए।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial