Top10 Entrepreneurs in India 2021 -जिन्होंने भारत को बदला

Published by Ankit Kashyap on

इस दुनिआ में हर व्यक्ति को कुछ बड़ा करने और बड़ा आदमी बनने का ख्वाब होता है और इसी तरह भारत के कई लोगो (Entrepreneurs in India) ने इस ख्वाब को पूरा भी किया है।

दोस्तों हमारा देश भारत दुनिआ का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है और पिछले कई सालो में हमारे देश भारत की अर्थव्यवस्था इतनी तेजी से बढ़ी है की भारत में 2021 में अरबपतिओ की सख्या 102 से बढ़कर 140 हो गयी है हमारे देश में काफी ऐसे Indian Entrepreneurs है जिनकी बदौलत पर दुनिआ कायम है।

भारत Entrepreneurship और सम्पत्ति के मामले में तेजी से आगे बढ़ता चला जा रहा है आइये जानते है Top10 Entrepreneurs in India के बारे में जिन्होंने पुरे विश्व में अपने बिज़नेस की बदौलत इज़्ज़त और अपना नाम बनाया है।

Top 10 Most Succesful Entrepreneurs in India

1. धीरुभाई अम्बानी Dhirubhai Ambani

Mr. Dhirubhai Ambani

धीरूभाई अम्बानी का जन्म 28 दिसंबर 1932 को चोरवाड़, गुजरात में हुआ था और इनका पूरा नाम धीरजलाल हीराचंद अम्बानी है धीरूबाई अम्बानी भारत के सबसे आमिर व्यक्ति मुकेश अम्बानी के पिता थे मुकेश अम्बानी को आमिर बनाने की नीव इनके पिता धीरूभाई अम्बानी ने ही रखी थी इसलिए इनको Biggest Entrepreneurs in India की सूचि में नंबर 1 पर शामिल किया जाता है।

जो कंपनी आज पुरे विशव में अपने काम से जानी जाती है Reliance Industries Limited Founder Dhirubhai Ambani ने  8 May 1973 को शुरू किया था और रिलायंस कंपनी आज जिन ऊंचाइयों पर है उसमे सबसे बड़ा महत्व धीरूभाई अम्बानी का ही है पहले धीरूभाई अम्बानी नौकरी पेशे वाले व्यक्ति थे फिर इन्होने अपने क़ाबलियत से रिलायंस को स्थापित किया और कंपनी को बुलंदियों तक ले गए।

दुरभाग्य से 6 जुलाई 2002 को धीरूभाई अम्बानी का देहात हो गया था और इसके बाद कंपनी का सारा कारोबार इनके दोनों बेटो श्री मुकेश अंबानी और श्री अनिल अंबानी ने मिलकर संभाला जो आज Reliance Industries के Chairman और Managing Director हैं।

2. जे. आर. डी. टाटा J. R. D. Tata

Mr. J.R.D. Tata

J. R. D. टाटा का पूरा नाम जहांगीर रतनजी दादाभाई टाटा है इनका जन्म 29 जुलाई 1904 को पेरिस, फ़्रांस में हुआ था ये शुरू से ही पढ़ाई लिखाई में बहुत अच्छे थे उन्होंने अपना परिवार का बिज़नेस संभालने से पहले ही भारत का पहला Commercial Pilot बनकर पहले ही नाम कमा लिया था भारत की सबसे पहली (Indian First Airline) एयरलाइन (Tata Airline) इन्होने ही शुरू की थी जिससे आज हम Air India के नाम से भी जानते है ये भारत के ऐसे Entrepreneurs in India है जिन्होंने देश में सुई से लेकर जहाज़ बनाने का काम भी किया है।

इन्होने टाटा ग्रुप को 1938 में ज्वाइन किया था और इन्होने टाटा कंपनियों की सख्या 14 से 95 कर दी थी और आज टाटा ग्रुप के जितने भी प्रोडक्ट (Tata Products) है उनकी शुरुआत भी जे. आर. डी. टाटा ने ही की थी इन्होने भारत के सबसे बड़ी IT Company के साथ साथ  टाटा मोटर्स, टाइटन इंडस्ट्रीज, टाटा टी, वोल्टास और एयर इंडिया की शुरुआत की थी और इन्हे भारत सरकार की और से पद्म भूषण और भारत रत्न से भी सम्मानित किया जा चूका है।

दुरभाग्य से 29 नवंबर 1993 को जे. आर. डी. टाटा का देहात हो गया था और इसके बाद कंपनी का सारा कारोबार इनके बेटे सर रतन टाटा खूब आगे बढ़ा रहे है।

3. नागवारा रामाराव नारायणा मूर्ति N.r. Narayana Murthy

Mr. N.r. Narayana Murthy

N.r. Narayana Murthy का पूरा नाम नागवारा रामाराव नारायणा मूर्ति है इनका जन्म 20 अगस्त 1946 को हुआ था आज इनका नाम भारत के बड़े बिजनेसमैन में आता है N.r. Narayana Murthy देश की सबसे बड़ी IT Company Inforsys के Co-Founder है और इस कंपनी की शुरुवात 1981 में सिर्फ 7 लोगो की मदद से शुरू की गयी थी

Inforsys को शुरू करने के लिए N.r. Narayana Murthy के पास सिर्फ 10,000 रुपए थे और उन्ही पैसो की बदौलत से ही इन्होने इस कंपनी को शुरू किया था और आज इन्हे भारत का Father or Indian IT Industries नाम से भी जाना जाता है और इसी की बदौलत आज ये Entrepreneurs in India की सूचि में शामिल हुए है।

Download Font onto your Computer here on this Page Kruti dev 010 Download

4. शिव नादर Shiv Nadar

Shiv Nadar
Mr. Shiv Nadar

शिव नादर का जन्म 18 जुलाई 1945, को तीरचेन्दुर, तमिलनाडु में हुआ था इन्होने सन 1976 में इस समय की सबसे बड़ी IT कंपनियों में से एक HCL Technologies की शुरुवात की थी इन्होने इस कंपनी को शुरू करने के लिए काफी फाइनेंस जैसी परेशानिओ का सामना करना पड़ा था और इसी कारण बहुत निचे स्तर से शुरू की गयी थी।

शुरू में HCL Technologies केवल कंप्यूटर और कैलकुलेटर बहा करती थी लेकिन शिव नादर की मेहनत करने से कंपनी को बहुत बड़ा बनाया गया और उनकी मेहनत के करना आज ये कंपनी सबसे बड़ी आईटी कंपनी में भी शामिल की जाती है।

शिव नादर भारत में अमीरो की सूचि में तीसरे नंबर पर आते है  ये IT Company देश के सबसे बड़ी Software Service देने वाली कंपनी है साल 2008 में अपने आईटी सेक्टर के योगदान के लिए भारत सरकार ने इनको पदम् भूषण से सम्मानित किया था।

ये भी पढ़े

Top20 Indian Brands 2021-जो करते है दुनिआ पर राज

Top 10 Indian CEOs 2021 जो चलाते है दुनिआ की बड़ी कंपनियां

2021में दुनिया की 10 सबसे बड़ी और महगी कंपनियां-Richest Companies in The World

5. लक्ष्मी मितल Lakshmi Mittal

Mr. Lakshmi Mittal

लक्ष्मी मितल जी का पूरा नाम लक्ष्मी निवास मितल है इनका जन्म 15 जून 1950 को शादलपुर चुरू राजस्थान में हुआ था। लक्ष्मी मितल देश के अच्छे बिजनेसमैन होने के साथ साथ देश के टॉप अमरिओ की सूचि में भी आते है।

दुनिआ के सबसे बड़ी स्टील बनाने वाली कंपनी के मालिक लक्ष्मी मितल है इनकी कंपनी का नाम Arcelor Mittal है और इनके इस कार्य को देखते हुए भारत सर्कार ने इन्होने पद्मभूषण से सम्मानित किया था।

6. घनश्यामदास बिरला Ghanshyam Das Birla (G.D. Birla)

Mr. Ghanshyam Das Birla

भारत के सबसे सफल बिजनेसमैन में से एक घनश्यामदास बिरला का जन्म 10 अप्रैल, 1894 में पिलानी, राजस्थान में हुआ था

आजकल हर कोई आदित्य बिरला ग्रुप के बारे में तो जानते है की वो कितनी बड़ी कंपनी है Aditya Birla Group आज जिन ऊंचाइयों को छू रही है उसकी नीव घनश्यामदास बिरला ने ही रखी थी।

Kumar Mangalam Birla जो आज इस कंपनी को चला रहे है वो असल में घनश्यामदास बिरला के पर पोते है।

दुरभाग्य से 11 जून 1983 को घनश्यामदास बिरला का देहात हो गया था।

7. दिलीप शांघवी Dilip Shanghvi

Mr. Dilip Shanghvi

दिलीप शांघवी जी का जन्म अमरेली, गुजरात में 1 अक्टूबर 1955 में हुआ था शुरुवात में ये अपने पिता जी के साथ मेडिकल स्टोर चलाते थे लेकिन इन्होने अपना बिज़नेस 10,000 रुपए से शुरू किया था शुरू में तो इन्होने काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा और अपना बिज़नेस धीरे धीरे आगे बढ़ाया।

फिर बाद में इन्होने अपनी खुद की Health Company शुरू की और उनकी कंपनी Sun Pharmaceuticals भारत के नंबर 1 होने के साथ साथ विश्व की सबसे बड़ी Health कम्पनियो में चौथे नंबर पर आती है और इसी कारण ये भारत के Top Richest Person in India की सूची में शामिल होते है इनके हेल्थ में योगदान के चलते भारत सरकार ने इनको पदमश्री अवार्ड से भी सम्मानित किया था।

8. अज़ीम प्रेमजी Azim Premji

Mr. Azim Premji

अज़ीम प्रेमजी का जन्म 24 जुलाई 1945 को एक गुजराती मुस्लिम परिवार में में हुआ था और इनके पिता Rifind आयल बनाने का काम किया करते थे पिता जी के देहात के बाद सारा काम अज़ीम प्रेमजी के ऊपर आ गया था और 21 वर्ष की छोटी-सी उम्र में इन्होने अपने परिवार का कारोबार संभाला।

अपने पिता जी की कंपनी को संभालते हुए वो इस कंपनी को काफी ऊंचाइयों तक ले गए और आज उनकी कंपनी Wipro भारत की Multi-National कंपनी में सुमार की जाती है और आज उनकी कंपनी को उनके बेटे ऋषब दुवारा चलाई जाती है सामाजिक कार्यों में इन्होने सराहनीय योगदान दिए जिस कारण अज़ीम प्रेमजी को पद्म भूषण से भी सम्मानित किया गया था।

9. मुकेश जागतिअनि Mukesh Jagtiani (Micky Jagtiani)

Mr. Mukesh Jagtiani

मुकेश जागतिअनि का जन्म 15 अगस्त 1952 को कुवैत भारत से बाहर हुआ था और उन्होंने अपनी शुरू की पढ़ाई भारत में रहकर की थी और Advance Level के लिए वो लंदन चले गए और वहां उनको किसी कारण से कॉलेज से बाहर निकाल दिया और लंदन में वो अपना खर्चा निकालने के लिए टैक्सी चलाया करते थे।

पढ़ाई पूरी न होने के कारण वो लंदन से वापिस आ गए और अपना खुद का बिज़नेस शुरू किया और आज वो दुबई में स्तिथ Land-Mark Multi-National कंपनी के मालिक है और इनका नाम भारत के Indian Billionaire Businessman में शामिल किया जाता है।

10 आदि गोदरेज Ardeshir Godrej

Mr. Ardeshir Godrej

भारत की सबसे बड़ी कंपनियों में सुमार की जाने वाली कंपनी गोदरेज के मालिक आदि गोदरेज है इनका जन्म 26 मार्च 1868 को गुजरात में हुआ था

गोदरेज आज कामयाबी की जिन भी ऊंचाइयों पर है इसका सबसे बड़ा महत्व Ardeshir Godrej को ही जाता है 1897 में इन्होने अपने भाई के साथ मिलकर गोदरेज कंपनी की शुरुवात की थी लेकिन दुरभाग्य से 1936 को इनका देहात हो गया था।

आपको ये जानकारी कैसी लगी कृपया करके कमेंट करके जरूर बताये ध्न्यावाद।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *