HomeBUSINESS IDEA'sखिलोने बनाने के बिज़नेस की लागत, मशीने, प्रॉफिट सभी जानकारिया Toy Manufacturing...

खिलोने बनाने के बिज़नेस की लागत, मशीने, प्रॉफिट सभी जानकारिया Toy Manufacturing Business Hindi

Toy Manufacturing Business Hindi, toy manufacturing business plan in india hindi, toys manufacturing business project report hindi, toy making business hindi.

Toy manufacturing business plan hindi- खिलोने बनाने का बिज़नेस एक ऐसा बिज़नेस है जिसमे प्रॉफिट प्रॉफिट मार्जिन 50% तक का होता है इसलिए इस बिज़नेस को शुरू करना बहुत लाभदायक होता है खिलोनो का सीधा सम्बन्ध हमारे बचपन से जुड़ा हुआ है साथ ही बच्चो के बचपन में सबसे ज्यादा पसद की जाने वाली चीज़ भी खिलोने ही है Toy Manufacturing Business Hindi खिलोनो को बनाने का बिज़नेस अगर आप शुरू करने वाले है तो आपको इस आर्टिकल के जरिये इसकी पूरी जानकारी देने वाले है।

भारत में खिलोनो की बहुत डिमांड है इसलिए भारत खिलोनो को चीन से इम्पोर्ट करता है जिसके कारण खिलोने महगे होते है आज के समय में भारत सरकार भी ऐसे बिज़नेस में मदद करती है जिसको भारत से शुरू करके उसके प्रोडक्ट भी भारत में ही बनते है आज के समय में किसी भी अन्य देश की तुलना में भारत में बच्चो की आबादी बहुत ज्यादा है जिससे खिलोनो की डिमांड भी मार्किट में बानी रहती है आइये जानते है की आप अपना Toy Manufacturing Business Hindi खिलोने बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू कर सकते है।

Toy Manufacturing Business की डिमांड

जैसा की हमने आपको बताया की खिलोनो का बिज़नेस हर समय डिमांड में रहता है खिलौने हमारे बचपन का एक अभिन्न हिस्सा हैं। शिशुओं, बच्चों, किशोरों और यहां तक ​​कि वयस्कों के बीच लोकप्रिय, सभी को खिलौने पसंद हैं। खिलौने न केवल बच्चों का मनोरंजन करते हैं बल्कि उन्हें उनकी कल्पना, निपुणता और बहुत कुछ के क्षितिज को विकसित करने में भी मदद करते हैं।

नेशनल इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एंड फैसिलिटेशन एजेंसी के अनुसार, ‘भारत में खिलौना उद्योग 1.5 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है, जो लगभग 0.5% वैश्विक बाजार हिस्सेदारी है। भारतीय खिलौनों का उद्योग भी 2024 तक 2-3 अरब डॉलर तक बढ़ने का अनुमान है भारत में खिलौना निर्माता मुख्य रूप से कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, एनसीआर और मध्य भारतीय राज्यों में स्थित हैं। इस क्षेत्र में MSME क्षेत्र की 4,000 खिलौना उद्योग इकाइयाँ हैं।

नमकीन बनाने के बिज़नेस की लागत, मशीनरी एव जानकारिया Namkeen Making Business Hindi

Toy Manufacturing Business की मार्किट रिसर्च

Toy manufacturing business plan hindi – चाहे आप एक कैफे या खिलौने निर्माण व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे हों, बाजार अनुसंधान करना आवश्यक है। पर्याप्त और अच्छी तरह से रिसर्च की गई जानकारी होने से आपको एक व्यवसाय मॉडल बनाने में मदद मिलेगी। आप न केवल अपने प्रतिस्पर्धियों के बारे में बल्कि अपने लक्षित दर्शकों के बारे में भी जानेंगे।

इसलिए, भारत में खिलौना निर्माण व्यवसाय शुरू करने से पहले इस व्यवसाय के बारे में अधिक से अधिक जानकारी इकट्ठा करने के लिए महीनों तक रिसर्च करे मार्किट में जो लोग ये काम पहले से कर रहे है उनसे इस बिज़नेस से जुडी जानकारिया हासिल करे।

Toy Manufacturing Business के लिए कच्चा माल

Toy Manufacturing Business Hindi- खिलौनों के निर्माण की प्रक्रिया आसान और सरल है। आपको बुनियादी कच्चे माल की आवश्यकता होगी जिसमें पैटर्न, फैब्रिक कटिंग, मोल्ड मेकिंग, स्टफिंग के लिए फाइबर, सिलाई मशीन, आंखें और नाक पिंचिंग शामिल हैं।

हालांकि, अगर आप इलेक्ट्रॉनिक खिलौनों के निर्माण में उद्यम करना चाहते हैं तो आपको खिलौना निर्माण मशीन और कच्चे माल की आवश्यकता होगी। इसके साथ ही आपको एक स्टाफ भी हायर करना होगा।

लैदर बैग बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करे Leather Bags Manufacturers Hindi

Toy Manufacturing Business के लिए मशीने

यदि आप केवल सामान के खिलौने बनाना चाहते हैं, तो आपको प्रीमियम गुणवत्ता के कच्चे माल और एक सिलाई मशीन की आवश्यकता होगी। लेकिन, यदि आप एक निर्माण इकाई स्थापित करना चाहते हैं, तो आपको पहले एक स्थान सुरक्षित करना होगा। अंत में, आपको खिलौने बनाने वाली मशीनरी को स्थापित करना होगा। कुछ सबसे महत्वपूर्ण मशीनें और उपकरण हैं:

  • Digital Multimeter
  • Temp controlled
  • Drilling machine
  • LCR meter
  • Analog meter
  • Tool kit
  • Electronic screwdriver
  • Combined soldering desoldering station
  • High-speed mini drill set
  • Digital storage Oscilloscope
  • Tools, equipment, and dies, etc.

25+ छोटे मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस 2022 से शुरू करे Manufacturing Business Ideas in Hindi 2022

Toy मेकिंग बिज़नेस में जगह की जरूरत

Toy मेकिंग बिज़नेस में आपको किसी भी प्रकार से ज्यादा जगह की जरूरत नहीं होती है इस बिज़नेस को आप अपने घर के एक छोटे कमरे से भी शुरू कर सकते है लेकिन इसमें सभी कार्य करने के लिए पर्याप्त जगह का होना अनिवार्य है आप इस बिज़नेस को अपने घर से 12×12 की एक छोटे से कमरे से भी शुरू कर सकते है।

जब आपका बिज़नेस रफ़्तार पकड़ने लगता है तो आप इस बिज़नेस को बड़े पैमाने पर शुरू कर सकते है इसके लिए आपको अलग से जगह की जरूरत होती है और मशीने भी लगानी पड़ती है इसके लिए आपको अलग से कारखाना लगाना पड़ता है

आप अपनी कैपेसिटी के हिसाब से जगह का चुनाव कर सकते है जितने बड़े पैमाने पर आप बिज़नेस की शुरुवात करना चाहते है उस हिसाब से आप जगह का चुनाव कर सकते है इतनी जगह जरुर रखनी चाहिए, जहाँ से अधिक कुशलता से और व्यवस्थित तरीके से कार्यो को अंजाम दिया जा सके साथ ही इस व्यावसाय में बिना किसी बाधा के उत्पादन के कार्य को बढ़ाने के लिए पर्याप्त स्थान के साथ आप आसानी से कारखाने को एक स्थान से दुसरे स्थान पर स्थानान्तरित भी कर सकते है।

Toy Making Business जगह, बिजली, कर्मचारियों की जरूरत

Toy Manufacturing Business Hindi- अगर आप toy बनाने का व्यापार की शुरुवात करना चाहते है तो आपको इसके लिए ज़मीन की भी जरूरत पड़ती है इसके लिए आपको एक गोदाम और मशीने चलाने के लिए जगह और एक ऑफिस के लिए जगह की जरूरत होती है।

Total Area Requirement – 300-500Sqft.

इस बिज़नेस की मशीनों को चलने के लिए 5 or 8 किलो वाट का इलेक्ट्रिक कनेशन लेना पड़ेगा।

यदि आप खिलौने बनाने की फैक्ट्री स्थापित करने की योजना बना रहे हैं तो आपको कुछ कर्मचारियों की आवश्यकता पड़ेगी, जोकि खिलौने की मशीन के संचालन एवं उसकी पैकेजिंग करने में उनकी मदद करेंगे. हालांकि इसमें काम करने वाले व्यापारियों को आपको कुछ वेतन प्रतिमाह देना होगा. 

मिनरल वाटर प्लांट बिजनेस कैसे शुरू करें Mineral Water Plant Business Hindi

Toy मेकिंग बिज़नेस के लिए रजिस्ट्रेशन

वैसे तो आप अगर इस बिज़नेस को घर से शुरू करते है तो आपको किसी भी प्रकार के रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं होती है लेकिन जब आप इस बिज़नेस को बड़े पैमाने पर शुरू करते है तो आपको रजिस्ट्रेशन की जरूरत होती है।

अगर आप इस बिज़नेस को बड़े पैमाने पर कर रहे है तो अपने बिज़नेस को ब्रांड बनाना चाहते है तो आपको Toy बिज़नेस के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जरूरत होती है जो बहुत अनिवार्य है।

अपना खुदका ब्रांड बनाने के लिए आपको ट्रेड लाइसेंस (Trade Licence) की जरूरत होती है इसके बाद अगर आपकी सेल (Sale) ज्यादा है तो आपको अपने बिज़नेस का जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी करवाना पड़ेगा।

इसके लिए आपको एक फर्म भी बनानी पड़ती जिससे आपके बिज़नेस की पहचान होती है इसकी पूरी जानकारी के लिए आप हमारा ये आर्टिकल पढ़ सकते है- अपनी कंपनी रजिस्ट्रेशन कैसे करवाये Register Company in India Hindi

खिलोने बिज़नेस में लगने वाली लागत

Toy Manufacturing Business Hindi- खिलोने के बिज़नेस को आप अपने घर से छोटे पैमाने से शुरू कर सकते है इसके लिए केवल आपको कच्चा माल खरीदना है और अपने हाथो से ही खिलोने बनाने का बिज़नेस शुरू करना है इसके लिए आपको केवल 1 lakh से इस बिज़नेस को शुरू कर सकते है आप सॉफ्ट टॉयज बनाने का व्यवसाय करते हैं तो इसे आप कपड़े सिलने वाली सिलाई मशीन का इस्तेमाल करके बना सकते हैं

मगर जब आप इस बिज़नेस को बड़े लेवल पर शुरू करते है तो आपको मशीने खरीदनी पड़ती है जगह न हो किराय पर लेनी पड़ती है और इसके इलावा आपको अन्य खर्चे भी करने पड़ते है इसलिए आपको 5-7 लाख Toy Manufacturing Business Cost से भी ज्यादा पैसो की जररत पड़ सकती है इसके लिए आप बैंक से लोन ले सकते हैं, या फिर सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ ले सकते हैं

खिलोने के बिज़नेस से आप कितना कमा सकते है?

Toy making business profit- खिलोने का बिज़नेस डिमांड में रहने वाला बिज़नेस है इस बिज़नेस में आप कमाई भी ज्यादा ही कर सकते है लेकिन वो सारा आपकी प्रोडक्शन पर निर्भर करता है की आप कितना माल बना कर मार्किट में बेच रहे है एक मार्किट रिसर्च से आप खिलोने के बिज़नेस में 40-50% का प्रॉफिट मार्जिन Toy Manufacturing Business Profit Marginआसानी से निकाल सकते है।

किसी एक खिलौने को बनाने में यदि आपको 100 रूपये की लागत लग रही हैं, तो इसे आप बाजार में 150 से 200 रूपये में बेच सकते हैं. जिससे आपको प्रति खिलौने 50 से 100 रूपये का प्रॉफिट हो सकता है. इससे प्रतिमाह आप लाखों ही नहीं बल्कि करोड़ों में भी कमाई करने लग जायेंगे.

खिलौने बनाने के बाद आप इसे होलसेल में बेच सकते हैं. इसका होलसेल मार्केट वैसे तो हर शहर में होता ही हैं किन्तु यदि आप इसे बाहर के शहरों में भी बेचते हैं तो इससे आपकी बहुत अच्छी आमदनी हो सकती है.

खिलोने के व्यापार की मार्केटिंग

Toy Manufacturing Business Marketingकिसी भी व्यापार को जब आप शुरू कर रहे है, तो उस व्यवसाय या व्यापार के बारे में लोगों को बताना बहुत जरुरी हो जाता है. इससे बाजार में आपकी कंपनी की तरफ लोगों का ध्यान बटेगा और आपकी खिलोने की बिक्री भी बढ़ेगी. आपको अपने उत्पाद के प्रचार और प्रसार के लिए कई उचित तरीके ढूंढने होंगे, जिनको आप अपनाकर अधिकतम परिणाम प्राप्त कर सकते है. आप अपने व्यवसाय का प्रचार कई तरीकों से कर सकते है जो की निम्न प्रकार से है:-

  • पोस्टरों के माध्यम से या पेम्पलेट के द्वारा
  • ऑनलाइन माध्यम से
  • सोशल साइट के माध्यम से

अगर आपको Toy Making Business Hindi से जुडी जानकारी से कुछ सिखने को मिला तो शेयर जरूर करे धन्यवाद्।

और बिज़नेस आइडियाज की जानकारी के लिए आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते है- Business Ideas Hindi

 (Toy Making Business, Industries, How to Start, Machine, Cost, Plan, Investment in Hindi)

Ankit Kashyap
Ankit Kashyap
हेलो दोस्तों, मेरा नाम अंकित कश्यप है मै businessme.in का फाउंडर हु इस ब्लॉग के दुवारा मै अलग अलग जगह से सभी जानकारिया जुटा कर आप तक इस ब्लॉग के माध्य्म से पहुंचाता हु ये ब्लॉग आपको बिज़नेस आइडियाज  निवेश, फाइनेंस, स्टॉक मार्किट और अन्य प्रकार की जानकारिया देता है अगर आप किसी अन्य जानकारी के लिए सम्पर्क करना चाहते है तो आप हमको सम्पर्क करने के लिए [email protected] और [email protected] पर सम्पर्क कर सकते है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular