NSE और BSE क्या है? और इनके काम

Published by Ankit Kashyap on

what is nse and bse

Difference Between Nse and Bse- Difference Between Bse and Nse-What is NSE and BSE

What is NSE and BSE?

दोस्तों जब भी आप शेयर मार्किट का नाम सुनते हो तो 2 शब्द सबसे पहले आगे आते है NSE and BSE. तो क्या है NSE or BSE और इनके क्या काम है इन सब को जानने के लिए आप इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पड़े तभी आपको समज आएगा। what is difference between bse and nse

BSE or NSE Stock Exchange के under काम करते है। स्टॉक एक्सचेंज से शेयर मार्किट में Shares Buy or Sell किये जाते है मतलब शेयर्स को ख़रीदा और बेचा जाता है। what is the difference between bse and nse

India में केवल 2 सबसे बड़े और सबसे पॉपलुर Stock Exchange है जिनका नाम है NSE or BSE 

Full Form of NSE or BSE in Shares Market

1. NSE Full Form is NATIONAL STOCK EXCHANGE

2. BSE Full Form is BOMBAY STOCK EXCHANGE

आइये जानते है इनके बारे में

BSE or NSE क्या फर्क है?

BSE– अगर हम बात करे BSE की तो ये भारत के साथ साथ Asia का सबसे पुराना (Oldest Stock Exchange) है अगर हम बात करे पूरी दुनिआ में BSE 10th (Largest Stock Exchange) बड़ा Stock Exchange है। क्योकि के 5500 से भी ज्य्दा कंपनियों के साथ काम करता है।

NSE– ये भारत का पहला ऐसा Stock Exchange है जो सबसे पहले Fully-Automatic था। Treading Facilities को आसान बनाने के लिए इसकी शुरुवात की गयी थी।

Comparison BSE or NSE

Stock Market vs Mutual Fund कौनसा है Best पूरी जानकारी

NSE or BSE कैसे काम करते है

NSE or BSE का काम स्टॉक एक्सचेंज से शुरू होता है जैसा के हमने पहले आपको बताया की NSE में 2000+ कम्पनिया शामिल है इसलिए और BSE में 5500 से भी ज्य्दा कम्पनिया शामिल है।

अगर हमको Market Performance को जानना है तो एक साथ इतनी सारी कंपनियों की परफॉरमेंस देख्ना काफी मुश्किल है

इसलिए पूरी कंपनियों से कुछ सैंपल लिया जाता जाता है जो कंपनियों की परफॉरमेंस को दर्शाता है और इसको हम Index कहते है

और BSE का जो Index है उसे हम कहते है Sensex है Sensex को BSE30 भी कहते है।

और NSE का जो Index है उसे हम कहते है Nifty और निफ़्टी को Nifty50 भी कहते है।

आपको स्टॉक में बारे में पता लगाने के लिए हर कंपनी को देखने की जरुरत नहीं है बस आप Sensex or Nifty से ही पता लगा सकते है की Market Up है या Market Down है।

अगर किसी दिन Sensex निचे चला जाता है तो समझ जाइये की जो कंपनी सेंसेक्स के Under है उनको Loss हुआ है अगर ऊपर गया तो Profit हुआ है

अगर किसी दिन Nifty निचे चला जाता है तो समझ जाइये की जो कंपनी Nifty के Under है उनको Loss हुआ है अगर ऊपर गया तो Profit हुआ है

कौनसा बेहतर है Best Platform for Investors

वैसे तो हम अगर बात कर मोजुदा वकत की तो NSE ज़्यदा बड़ा स्टॉक एक्सचेंज बन चूका है जिससे बहुत बड़ी बड़ी कम्पनिया जुडी हुई है जिसका टर्नओवर में काफी ज्यादा है और ये छोटे निवेशको के लिए और Short Term Investment के लिया अच्छा ऑप्शन है।

आपके पास अगर ज्यादा बजट है और Long Term Investment करना चाहते है या आप Short-Term से ज्यादा Long-Term में निवेश करना चाहते है तो आप BSE के साथ निवेश कर सकते है।

Short Term Investment के लिए आप NSE के साथ निवेश शुरू कर सकते है।

Long Term Investment के लिए आप BSE के साथ निवेश शुरू कर सकते है।

Search For:- what is the difference between nse and bse, what is the difference between bse and nse, what is difference between bse and nse, what is the difference between nse and bse, what is the difference between nse and bse trading, what is the difference between bse and nse in india, what is the difference between nse and bse trading.


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *